सिंधु घाटी सभ्यता (indus valley civilization ) - latestgovtsjobs.com

latestgovtsjobs.com

latest jobs||Results||Admit Card||

अब पाये सभी सरकारी नौकरी और उनसे जुड़े हुए किसी भी सवालो के जवाब हमारी website पर सबसे पहले

सिंधु घाटी सभ्यता (indus valley civilization )

सिंधु घाटी सभ्यता (indus valley civilization )

                  सिंधु घाटी सभ्यता (indus valley civilization ) 


सिंधु घाटी सभ्यता का क्षेत्र  त्रिभुजाकार  था। इसका क्षेत्रफल  12 ,99 ,600  बर्ग किलोमीटर  था। इस सभ्यता की बिस्तार अब्दी 2400 -1750 BC के बीच थी। इस सभ्यता की बिशेषता नगर योजना थी। 
सिंधु घाटी सभ्यता (indus valley civilization )


सिंधु घाटी सभ्यता (indus valley civilization ) के मुख्या नगर :-

  • हड़प्पा 
  • मोहनजोदड़ो 
  • कालीबंगा 
  • बनाबली 
  • लोथल 
  • सुटकागादोर 
  • रंगपुर 
  • आलमगीरपुर 
  • रोपड़ 

हड़प्पा :-

1921  में  दयाराम सायानी ने  हड़प्पा सथल  की खोज की थी जो बर्तमान में पाकिस्तान के मोंटगोमरी जिले में रावी नदी के किनारे स्थित है। 

Buy सिंधु घाटी सभ्यता (indus valley civilization ) Most Important Questions PDF -CLICK HERE 

No. Of Questions : 98

Price :25/- Only

मोहनजोदड़ो :-

1922 में राखालदास बनर्जी  ने मोहनजोदड़ो की खोज की थी जो बर्तमान में पाकिस्तान के लरकाना में सिंधु नदी के किनारे स्थति है। 

कालीबंगा :-

 1953  में बी.बी लाल और थापर  ने कालीबंगा  की खोज की थी जो बर्तमान में राज्यस्थान के हनुमान गड में  घग्गर नदी के किनारे स्थति है।  

बनाबली :-
1974   में रविंदर विशष्ट  ने बनाबली   की खोज की थी जो बर्तमान में हरयाणा  में  रंगोई  नदी के किनारे स्थति है। 

लोथल :-

1955    में रंगनाथ   ने बनाबली   की खोज की थी जो बर्तमान में गुजरात   में  भोगवा   नदी के किनारे स्थति है। 


Check Govt Jobs:-click here
महत्ब्पूर्ण स्थल :-

  • बंदरगाह :- लोथल और संतकागोंडर 
  • अग्निकुंड :- लोथल और कालीबंगा 
  • नर्तकी की कांस्य की मूर्ति :-मोहनजोदड़ो 
  • विशाल सन्नानघर :-मोहनजोदड़ो 
  • पशुपति की मूर्ति :- मोहनजोदड़ो 
  • घोड़े के प्रमाण :सुरकोतड़ा ,कालीबंगा ,लोथल 
  • लिपि :-चित्रात्मक 

सिंधु घाटी सभ्यता (indus valley civilization ) के पतन के अनेक कारण :-

  • आर्ये  का अकर्मण 
  • विनाशकारी बाढ़ 
  • जलवायु परबर्तन 
  • महामारी 
Know More :-Click Here